Jan 7, 2017

एक लाख के पार होगी प्रति व्यक्ति आय

नई दिल्ली : लगातार दो साल सूखे की मार से उबर रहे कृषि क्षेत्र में जबर्दस्त उछाल से चालू वित्त वर्ष 2016-17 में देश की विकास दर 7.1 प्रतिशत रहने का अनुमान है। खास बात यह है कि पहली बार देश की प्रति व्यक्ति आय मौजूदा वित्त वर्ष में एक लाख रुपये का आंकड़ा पार करने का अनुमान है।


केंद्रीय सांख्यिकी कार्यालय (सीएसओ) की ओर से चालू वित्त वर्ष के लिए जारी राष्ट्रीय आय के प्रथम पूर्वानुमान में अर्थव्यवस्था की यह तस्वीर दिखाई गई है। हालांकि इसमें आठ नवंबर को नोटबंदी के फैसले के बाद के आंकड़े शामिल नहीं हैं। पहले जीडीपी के ये आंकड़े सात फरवरी को आते थे। सरकार के इस बार आम बजट फरवरी के अंतिम दिन की जगह पहले दिन पेश करने संबंधी फैसले को देखते हुए इन्हें छह जनवरी को जारी किया गया है।


सीएसओ के मुताबिक चालू कीमतों पर देश की प्रति व्यक्ति आय मौजूदा वित्त वर्ष में 10.4 फीसद बढ़ने होने का अनुमान है। इसके साथ ही देश की प्रति व्यक्ति औसत आमदनी का आंकड़ा 1,03,007 रुपये पर पहुंच जाएगा। पिछले वित्त वर्ष में देश की प्रति व्यक्ति आय 93,293 रुपये थी।