Skip to main content

Posts

Showing posts from November 1, 2015

भारत दुनिया का 7वां ‘वैल्यूड नेशन’ ब्रांड

• ब्रिक्स देशों में ब्रांड वैल्यू में बढ़ोतरी करने वाला भारत अकेला देशनई दिल्ली। भारत दुनिया का सातवां सबसे वैल्यूड नेशन ब्रांड बन गया है। ब्रांड फाइनेंस की वार्षिक रिपोर्ट के अनुसार भारत ने अपनी ब्रांड वैल्यू में 32 फीसदी उछाल के साथ एक स्थान की बढ़त ली है। भारत की नेशनल ब्रांड वैल्यू 2.1 बिलियन डॉलर है। रिपोर्ट के अनुसार, 19.7 बिलियन डॉलर की वैल्यू के साथ अमेरिका शीर्ष पर है। इस सूची में चीन और जर्मनी क्रमश: दूसरे और तीसरे स्थान पर हैं।सूची में यूके को चौथा, जापान को पांचवां और फ्रांस को छठा स्थान हासिल हुआ है। हालांकि, भारत और फ्रांस ने अपने पिछले साल की पोजिशन में एक स्थान की बढ़त बनाई है। इसके अतिरिक्त सभी शीर्ष पांच देशों ने अपना स्थान बरकरार रखा है। हालांकि, भारत के नेशन ब्रांड में 32 फीसदी की उछाल सूची में शामिल शीर्ष 20 देशों में सबसे अधिक है। चीन ने अपनी ब्रांड वैल्यू में एक फीसदी की कमी के बावजूद 6.3 बिलियन डॉलर के साथ दूसरा स्थान बरकरार रखा है। ब्रांड फाइनेंस ने कहा कि दुनिया के 100 अग्रणी देशों के मजबूती और उनके नेशन ब्रांड को निर्धारित करने के लिए दुनिया की सबसे बड़ी कंप…

लीजिये हाजिर है जूट की ज्वेलरी, न खोने का डर न चोरी की चिंता

सिर्फ150 रुपये से लेकर700तक है कीमतकोलकाता के कलाकारों की कसीदाकारी मोह रही मनज्वेलरी (आभूषण) किसी भी महिला का सबसे बड़ा सपना होता है। हो भी क्यों न, आखिर आभूषणों का आकर्षण है ही ऐसा। मगर इतनी कमर तोड़ महंगाई में सोने-चांदी के जेवरात खरीदना हर किसी के वश की बात नहीं है, जिसने खरीद भी लिया, वह उसके चोरी होने, खोने और झपटमारी की चिंता से हमेशा पहनने की हिम्मत नहीं जुटा पाता।

ऐसे में अधिकांश दिलों में ज्वेलरी खरीदने और पहनने की इच्छाएं धरी की धरी रह जाती हैं, लेकिन अब बाजार में महिलाओं के लिए आ गई है जूट की बनी सस्ती और आकर्षक ज्वेलरी, जिसके न खोने का डर होता है और चोरी की चिंता होगी।

अब कोई भी महिला मनचाही ज्वेलरी पहनने का सपना पूरा कर सकती है। जूट से बनी ज्वेलरी की कीमत महज 150 से लेकर 700 रुपये तक है। नोएडा स्टेडियम के शिल्पोत्सव में कोलकाता के कलाकारों ने अपनी बेहतरीन कसीदाकारी से यह ज्वेलरी तैयार की है। महिलाएं इतनी कम कीमत में चंद्रहार, तरह-तरह के डिजाइन वाले नेकलेस व ईअर रिंग पहनने की हसरत पूरी कर सकती हैं।

आज से वेटिंग (प्रतीक्षारत) टिकट वाले यात्रियों को कंफर्म (आरक्षित) सीट देने की योजना शुरू

टिकट बुक कराते समय ‘विकल्प’ का करना होगा चुनाव
नई दिल्ली : रेल टिकट कंफर्म (आरक्षित) न होने से फिक्रमंद मुसाफिरों के लिए खुशखबरी। रेलवे एक नवंबर यानी आज से वेटिंग (प्रतीक्षारत) टिकट वाले यात्रियों को कंफर्म (आरक्षित) सीट देने की योजना शुरू करने जा रही है।


विकल्प नामक इस योजना के तहत वेटिंग टिकट वाले मुसाफिरों को उसी रूट पर चलने वाली अगली ट्रेन में कंफर्म सीट मिलेगी, बशर्ते उन्होंने इंटरनेट से टिकट बुक किया और इस विकल्प का चुनाव किया होगा। रेल मंत्रलय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि इंटरनेट के जरिये टिकट बुक कराते समय विकल्प योजना का चुनाव करना होगा। इसके बाद रेलवे मुसाफिर को उसके मोबाइल फोन पर वैकल्पिक ट्रेन में कंफर्म सीट दिए जाने का एसएमएस भेज देगा। इसके लिए कोई भी अतिरिक्त शुल्क नहीं लिया जाएगा और न ही शुल्क में अंतर होने पर कोई रिफंड की वापसी होगी।

सुविधा मिलने वाले यात्री का नाम उस ट्रेन की प्रतिक्षारत सूची में नहीं दर्ज होगा, जिसके लिए उसने टिकट बुक कराया होगा। जिस ट्रेन में यात्री को कंफर्म सीट मिलेगी, उसकी आरक्षित और प्रतिक्षारत सूचियों के साथ संलग्न एक अलग चार्ट में उनका नाम …