Skip to main content

Posts

Showing posts from September 27, 2015

सड़क दुर्घटनाओं में घायलों के मददगार पाएंगे इनाम, पूछताछ के नाम पर पुलिस नहीं करेगी परेशान

सड़क दुर्घटनाओं में घायलों के मददगार पाएंगे इनाम अस्पताल पहुंचाने वालों को पूछताछ के नाम पर पुलिस नहीं करेगी परेशान प्रत्यक्षदर्शी हैं तो एक बार होगी पूछताछ  
सड़क दुर्घटना में घायलों की मदद करने वालों को अब सरकार इनाम देने जा रही है। सरकार ऐसे नियम बना रही है जिससे सड़क दुर्घटना में घायलों को अस्पताल पहुंचाने वालों को पुलिस पूछताछ के नाम पर प्रताड़ित न कर सके। अस्पताल पहुंचाने वाले लोगों से इलाज का पैसा भी नहीं मांगा जाएगा। मदद करने वालों को यदि पुलिस या प्रशासन के अफसर परेशान करते हैं तो उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। केंद्र सरकार के सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय ने इस बारे में एक अधिसूचना जारी कर दी है। इसे प्रदेश सरकार के पास भेजा गया है। प्रदेश सरकार इसी के अनुसार नियमावली बनाने में जुट गई है। सूबे का परिवहन विभाग ऐसी नियमावली बना रहा है ताकि सड़क दुर्घटना में घायल व्यक्तियों की मदद के लिए ज्यादा से ज्यादा लोग आगे आएं। 
अब कोई भी व्यक्ति जो घायलों को पास के अस्पताल ले जाएगा उससे कोई भी प्रश्न नहीं पूछा जाएगा। सरकार मददगार नागरिकों को प्रोत्साहित करने के लिए उन्हें इनाम …

बच्चे बनाएंगे देश की एजुकेशन पॉलिसी, स्टूडेंट्स को भरना होगा ऑनलाइन फीडबैक फॉर्म, असेसमेंट प्रोसेस को लेकर भी मांगी राय

बच्चे बनाएंगे देश की एजुकेशन पॉलिसी स्टूडेंट्स को भरना होगा ऑनलाइन फीडबैक फॉर्म असेसमेंट प्रोसेस को लेकर भी मांगी राय 
नई दिल्ली : नैशनल एजुकेशन पॉलिसी-2016 तैयार करते समय स्कूलों में पढ़ने वाले स्टूडेंट्स की राय को भी अहमियत दी जाएगी। एचआरडी मिनिस्ट्री के निर्देश के बाद केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) ने 6 से 12वीं क्लास के स्टूडेंट्स के लिए ऑनलाइन फीडबैक फॉर्म तैयार किया है और इस फॉर्म में स्टूडेंट्स से 28 क्वेश्चन पूछे गए हैं। इन सवालों के जरिए स्कूल में इन्फ्रास्ट्रक्चर से लेकर क्लासरूम टीचिंग, कोर्स कंटेंट, असेसमेंट प्रोसेस, एजुकेशन क्वॉलिटी से जुड़े सवाल पूछे गए हैं और स्टूडेंट्स की राय मांगी गई है। 
सीबीएसई ने सभी स्कूलों को निर्देश दिया है कि उनके स्कूलों में ज्यादा से ज्यादा स्टूडेंट्स इस फीडबैक फॉर्म को फिल करें। स्टूडेंट्स की राय के बाद सीबीएसई एक डिटेल रिपोर्ट तैयार करेगी और उसे एचआरडी मिनिस्ट्री के पास भेजा जाएगा। 5 अक्टूबर तक यह फॉर्म सब्मिट करना है। स्किल बेस्ड एजुकेशन पर : जोर ऑनलाइन फीडबैक फॉर्म में 9वीं से 12वीं क्लास तक के स्टूडेंट्स के लिए कुछ खास क्वेश्च…