Skip to main content

Railways launched a mobile App and also an online portal for complaints : मोबाइल एप से शिकायत दर्ज कराएं रेलयात्री

  • मोबाइल एप से शिकायत दर्ज कराएं रेलयात्री
  • बजट के बाद क्रिस ने लॉच किया नया एप्लीकेशन 
  • अभी एंड्रायड मोबाइल पर, जल्द होगा विस्तार


Railways launched a mobile phone App and also an online portal with a view to providing customers with "an effective forum to lodge complaints".

"There should not be any complaints ideally, but if about 3 crore passengers will travel in more than 10,000 trains daily, some complaints might come up. "So, there should be an effective forum to lodge complaints," Railway Minister Suresh Prabhu said after launching the portal and the App.  He said that besides registering complaints, people can also use these forums to send suggestions for improving railway services.

"Valuable suggestions on the newly-launched portal can be incorporated... if found suitable," he said. Passengers can lodge their complaints and suggestions on the webpage www.indianrailways.gov.in. One can also download the mobile App from the URL www.coms.indianrailways.gov.in. for registering complaints and sending suggestions.

Passengers can also SMS their complaints to the number: 9717630982.  The complaint will be auto assigned to the railway official concerned for redressal. The complainant will receive a message on his mobile phone and via email about the action taken on the matter. 

काउंटर पर टिकट मिलने में दिक्कत हुई। टीटीई ने चेकिंग के दौरान दुर्व्यवहार किया। एसी कोचों के बेडरोल गंदे हैं। ट्रेनों के संबंध में स्टेशन पर सही सूचनाएं नहीं दी जा रही हैं। रेलवे में पार्सल, लगेज, खानपान सेवा, सफाई, स्लीपर क्लास, कर्मचारियों के व्यवहार, बिजली, पंखा, एसी की खराबी, पानी की अनुपलब्धता, टिकट वापसी में भ्रष्टाचार है या किसी भी तरह की गड़बड़ी हो तो उसकी शिकायत के लिए यात्रियों को अफसरों या कर्मचारियों के सामने शिकायत पुस्तिका के लिए रिरियाना नहीं पड़ेगा। यात्री घर बैठे अपनी शिकायत दर्ज कराएं। साथ ही रेलवे ने इस पर कोई कार्रवाई की या नहीं, इसकी निगरानी भी कर सकते हैं।

रेल बजट आने के दो दिन बाद ही रेलवे ने नया एप्लीकेशन लॉच कर दिया है। गूगल प्ले स्टोर से सीओएमएस नाम के इस एप को डाउनलोड किया जा सकता है। रेलवे की शिकायत और सुझाव प्रणाली पहले एसएमएस और वेब आधारित थी। इसमें शिकायतकर्ता को यह जानने में मुश्किल होती थी कि उसकी शिकायतों पर रेलवे ने क्या कार्रवाई की। अफसरों का कहना है कि अब ज्यादातर युवक-युवतियों के हाथ में स्मार्ट फोन है। ऐसे में ऐसी प्रणाली की जरूरत थी, जिससे लोग आसानी से शिकायत दर्ज करा सकें।


रेल मंत्रालय भी चाहता है कि शिकायत की प्रक्रिया आसान और ज्यादातर लोगों की पहुंच में होने पर कर्मचारी और अफसर जिम्मेदारी समझेंगे। साथ ही यह डर भी बना रहेगा कि गड़बड़ी होने पर कोई भी व्यक्ति शिकायत कर सकता है। फिलहाल, नया एप एंड्रायड प्लेटफार्म पर उपलब्ध है। इसके संचालन और निगरानी की जिम्मेदारी सेंटर फॉर रेलवे इन्फार्मेशन सेंटर को सौंपी गई है। इस एप्लीकेशन से रेलवे के किसी भी मुद्दे पर शिकायत दर्ज करा सकते हैं। इसमें शिकायतकर्ता को मोबाइल नंबर, ई-मेल आईडी भी देना होगा। रेलवे के दोनों नए नंबर 182 और 138 भी इस एप के जरिए जोड़े गए हैं। अब तक इसे 100 से ज्यादा ग्राहक डाउनलोड कर चुके हैं।

Popular posts from this blog

खुशखबरी : अब बेसिक फ़ोन का 49 रुपये में कनेक्शन और रविवार को दिनभर मुफ्त बात

लैंड लाइन टेलीफोन की टिंग-टिंग को पुराना रुतबा दिलाने के लिए दूरसंचार विभाग सिर्फ 49 रुपये में इसका कनेक्शन देगा। विभाग को उम्मीद है कि इससे टिंग-टिंग के दिन बहुरेंगे। इतनी ही धनराशि जमाकर छह माह इसका लाभ लिया जा सकेगा। लैंडलाइन फोन पर अब रविवार को पूरे देश में किसी भी नेटवर्क पर असीमित निश्शुल्क बात की जा सकेगी। रात नौ से सुबह सात बजे तक यह सुविधा उपलब्ध थी। संचार राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) मनोज सिन्हा ने स्वतंत्रता दिवस के उपलक्ष्य में पैन इंडिया आधारित दो लैंड लाइन स्कीम समेत चार योजनाओं का लोकार्पण किया।

डीएलडब्ल्यू प्रेक्षागृह में दूरसंचार विभाग की ओर से आयोजित समारोह में उन्होंने पीएम के सांसद आदर्श ग्राम जयापुर व नागेपुर में वाई-फाई हॉट-स्पॉट सेवा का शुभारंभ किया। उन्होंने कहा कि पीएम के डिजिटल इंडिया की परिकल्पना के तहत मार्च 2017 तक एक लाख, 2018 तक ढाई लाख, 2019 तक देश का हर गांव इस सुविधा से जुड़ा होगा।संचार राज्यमंत्री ने कॉल ड्राप को समस्या मानते हुए भरोसा दिया कि चार माह में इसमें गुणात्मक सुधार दिखेगा।

पूरे मोहल्ले की रीडिंग ली जायेगी एक साथ, घर-घर जाकर मीटर की रीडिंग लेने के दिन लदने वाले

☀ पूरे मोहल्ले की मीटर रीडिंग एक ही जगह खड़े होकर लेने के लिए बिजली विभाग ने सॉफ्टवेयर लांच

घर-घर जाकर मीटर की रीडिंग लेने के दिन लदने वाले हैं। पूरे मोहल्ले की मीटर रीडिंग एक ही जगह खड़े होकर लेने के लिए बिजली विभाग ने सॉफ्टवेयर लांच किया है। नई तकनीक से लैस हैंडहेल्ड मशीन की रेडियो फ्रीक्वेंसी 200 मीटर के दायरे में जितने भी घर होंगे उनकी रीडिंग लेने में सक्षम होगी। मीटर रीडिंग के सॉफ्टवेयर में उपभोक्ताओं की कनेक्शन संख्या, आइडी व घर का पता लिंक किया जाएगा।



मशीन में दिए गए ऑप्शन में जाकर 200 मीटर के दायरे में जितने घर होंगे, उनकी कनेक्शन संख्या द्वारा हैंडहेल्ड मशीन की रेडियो फ्रीक्वेंसी अलग-अलग मीटर रीडिंग को पकड़ लेगी। इस रीडिंग को कर्मचारी दफ्तर जाकर कंप्यूटर में अपलोड कर देगा और बल्क में बिल प्रिंट हो जाएंगे। मीटर की रीडिंग डिस्पले समेत बिल पर प्रिंट होगी, जिसमें चाहकर भी कर्मचारी छेड़छाड़ नहीं कर सकता।

☀ लगाए जाएंगे नए स्मार्ट मीटर :
रेडियो फ्रीक्वेंसी से रीडिंग लेने के लिए घरों मे स्मार्ट मीटर लगाए जाएंगे। बिजली विभाग को एक हजार मीटर मिल गए हैं, जिन्हें पायलट प्रोजेक्ट के तौर प…

नए साल में फ्री कॉल, BSNL भी अपने उपभोक्ताओं के लिए शुरू करेगा सेवा

☀ 2G व 3G उपभोक्ताओं को भी मिलेगा योजना का लाभ
कॉल वार में बीएसएनल ने भी कूदने की तैयारी कर ली है। यानी भारत संचार निगम लिमिटेड उपभोक्ताओं को लुभाने के लिए नए साल में असीमित कॉल का तोहफा देगा। उपभोक्ताओं को डाटा रिचार्ज कराने पर फ्री कॉल की सुविधा दी जाएगी। इस योजना का लाभ टू जी व थ्री जी के उपभोक्ताओं को भी मिलेगा।


कंपनियों के बीच होड़ के चलते सस्ती कॉल के बाद उपभोक्ताओं को फ्री कॉल की सुविधा की दौड़ में बीएसएनएल भी शामिल होने जा रही है। मुकेश अंबानी की कंपनी रिलायंस जियो ने अपने 4-जी उपभोक्ताओं को फ्री नेटवर्क के साथ ही फ्री कॉल की भी सुविधा प्रदान की है। इसके जवाब में बीएसएनएल ने लैंड लाइन पर 249 रुपये में अनलिमिटेड हाई स्पीड ब्रॉडबैंड की सुविधा उपलब्ध कराई। इसके अलावा रविवार को 24 घंटे और अन्य दिनों में रात 9 बजे से सुबह सात बजे तक फ्री कॉल की सुविधा मुहैया करा रहा है। इस सब के बाद भी इस सरकारी कंपनी के मोबाइल उपभोक्ता फ्री कॉल की सुविधा से वंचित थे।


बीएसएनएल के प्रबंध निदेशक अनुपम श्रीवास्तव ने पत्र के माध्यम से बताया कि विदेश की तर्ज पर नये साल में मोबाइल उपभोक्ताओं को भी फ्री कॉल…